मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को ये बातें संगम नगरी में प्रदेश अधिवक्ता समागम-2020 में कही ये बात

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को ये बातें संगम नगरी में प्रदेश अधिवक्ता समागम-2020 में कही ये बात 1

वकीलों के आवास की समस्या का समाधान अपराधियों और माफिया के कब्जे से मुक्त करवाई गई सरकारी जमीनों से ही हो सकता है। विकास प्राधिकरणों को सरकार ने निर्देश दिया है कि इन जमीनों पर अधिवक्ताओं, पत्रकारों, व्यवसायियों और गरीबों के लिए मल्टी स्टोरी बिल्डिंगें बनाकर नो-प्रॉफिट-नो लॉस पर उन्हें मुहैया करवाएं। इससे समाज में अच्छा संदेश भी जाएगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को ये बातें संगम नगरी में प्रदेश अधिवक्ता समागम-2020 में कहीं।

सीएम ने चुटकी लेते हुए कहा कि माफिया से मुक्त करवाई गई जमीनों पर फ्लैट बनाकर वकीलों को दिए जाने से माफिया उन पर दोबारा कब्जा करने की हिम्मत भी नहीं कर सकेंगे। योगी ने कहा कि पहले प्रदेश में लोग अपराधियों से घबराते थे और अपराधियों को देखकर रास्ता बदल लेते थे। कोई कल्पना नहीं कर सकता था कि, जो अपराधी लोगों के घरों पर बुलडोर चलाया करते थे। उनकी छाती पर भी कभी बुलडोजर चल सकता है। समागम का आयोजन यूपी बार काउंसिल और हाई कोर्ट बार असोसिएशन की ओर से किया गया था।