सरकार का फैसला- रैपिड टेस्ट से नहीं होगी कोरोना वायरस की जांच

Government's decision - Rapid test will not investigate corona virus

शनिवार को स्वास्थ्य मंत्रालय में केंद्रीय मंत्री समूह की बैठक हुई, जिसमें सभी ने इस बात को माना कि कोविड-19 को लेकर सरकार ने जो कदम उठाए हैं उनके सकारात्मक परिणाम दिखाई दे रहे हैं। साथ ही फिलहाल रैपिड टेस्ट किट से कोरोना की जांच को टाल दिया गया है।

सरकार द्वारा उठाए गए कदमों से कोरोना कंट्रोल में

इस बैठक में स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन, स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी कुमार, चौबे, विदेश मंत्री एस जयंशकर,  नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी और अन्य अधिकारियों ने हिस्सा लिया। मीडिया में आ रही खबरों की माने तो, बैठक में इस बात पर सहमति बनी कि देश में कोविड-19 की स्थिति नियंत्रण में है और सरकार द्वारा उठाए गए कदमों के सकारात्मक परिणाम सामने आ रहे हैं। इसलिए रैपिड टेस्ट किट का इस्तेमाल फिलहाल के लिए टाल दिया गया है।

15 लाख से अधिक परीक्षण करने की क्षमता

इसके साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि, सरकार के अनुसार वर्तमान में देश की क्षमता 15 लाख से अधिक परीक्षण करने की है। इसके अतिरिक्त कई भारतीय कंपनियां परीक्षण किट विकसित करेंगी। इस वायरस के खिलाफ लड़ाई में सहायता के लिए सवा लाख से अधिक स्वयंसेवक तैयार हैं।

अबतक कुल 24,506 पहुंची कोरोना वायरस मरीजों की संख्या

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 1429 नए मामले सामने आए हैं और 57 लोगों की मौत हो गई है। देशभर में इस वक्त कोरोना वायरस के कुल 24,506 पॉजिटिव मामले हैं, जिसमें 18,668 सक्रिय हैं, 5,063 लोग स्वस्थ हो चुके हैं।