क्यों विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को कहना पड़ा- ये मैं ही हूं, मेरा भूत नहीं

क्यों विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को कहना पड़ा- ये मैं ही हूं, मेरा भूत नहीं 1

नई दिल्ली

अक्सर अपने ट्वीट से देश के लोगों और विदेश में रहने वाले भारतीयों की समस्या का समाधान करने वाली विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के साथ आखिर ऐसा क्या हुआ जिससे उन्हें कहना पड़ा कि ‘यह मैं हूं, मेरा भूत नहीं।’

दरअसल, बीजेपी के ‘मैं भी चौकीदार’ कैम्पेन के तहत अपने नाम के आगे चौकीदार जोड़ लेने के बाद लोग उनसे सवाल पूछ रहे हैं कि उन्होंने ऐसा क्यों किया। इसी क्रम में एक ट्विटर यूजर ने लिखा, ‘निश्चित रूप से यह सुषमा स्वराज नहीं हैं जो कि यह ट्वीट कर रही हैं। कोई पीआर का व्यक्ति अपना काम कर रहा है जिसे इसके लिए पैसे मिल रहे हैं।’ इस पर सुषमा स्वराज ने जवाब देते हुए लिखा, ‘भरोसा कीजिए, यह मैं ही हूं, मेरा भूत नहीं।’

इससे पहले भी एक व्यक्ति ने चौकीदार लगाने की वजह पूछी थी तो उन्होंने जवाब देते हुए लिखा था, ‘क्योंकि मैं भारतीयों के हितों और भारत के बाहर रह रहे भारतीयों की चौकीदारी कर रही हूं।’