पीएम का ‘मिशन शक्ति’ भाषण अचार संहिता का उल्लंघन नहीं: चुनाव आयोग

पीएम का 'मिशन शक्ति' भाषण अचार संहिता का उल्लंघन नहीं: चुनाव आयोग 1

नई दिल्ली

चुनाव आयोग ने आचार संहिता के उल्लंघन मामले में पीएम नरेंद्र मोदी को क्लीन चिट दे दी। चुनाव आयोग ने कहा कि पीएम का ‘राष्ट्र को संबोधन’ का भाषण आचार संहिता का उल्लंघन नहीं करता है। दरअसल पीएम नरेंद्र मोदी ने 27 मार्च को राष्ट्र के नाम संबोधन कर अंतरिक्ष में ऐंटी-सैटलाइट मिसाइल लॉन्च करने की जानकारी दी थी। इसके बाद कई राजनीतिक दलों ने ऐतराज जताते हुए कहा था कि यह ऐलान डीआरडीओ के वैज्ञानिक भी कर सकते थे। इसके लिए पीएम मोदी को आने की जरूरत नहीं थी। विपक्षी पार्टियों का कहना था कि पीएम मोदी ने इसे अपनी सरकार की उपलब्धि बताकर लोगों को लुभाने की कोशिश की है।

कम्युनिस्ट पार्टी ने चुनाव आयोग से पीएम मोदी के इस ऐलान को लेकर शिकायत की थी। पार्टी ने आरोप लगाया था कि पीएम ने ऐसा कर आचार संहिता का उल्लंघन किया है। इसके बाद चुनाव आयोग ने पीएम के भाषण की कॉपी मांगी थी, ताकि वह इस पर सही फैसला ले सके।

चुनाव आयोग ने कहा, ‘प्रधानमंत्री का मिशन शक्ति भाषण चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन नहीं करता है। मामले की जांच करने वाली कमिटी इस नतीजे पर पहुंची है कि अधिकारिक तौर पर इस ऐलान को करने में पीएम ने कहीं भी चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन नहीं किया है।’