असम की जनता को मूर्ख बना रहे हैं पीएम मोदी: ममता बनर्जी

गुवाहाटी

पश्चिम बंगाल की मुख्यबमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को असम के धुब्री में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला। उन्होंरने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम के लोगों को मूर्ख बनाने के लिए नैशनल रजिस्टरर ऑफ सिटिजन्सि और नागरिकता बिल जैसे ‘दो लालीपॉप’ दिए हैं। ममता ने कहा कि 40 लाख लोगों के नाम एनआरसी में शामिल नहीं किए गए हैं। ऐसे लोगों के साथ तृणमूल कांग्रेस बिना किसी भेदभाव के खड़ी है।

असम के धुब्री में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी ने कहा, ‘असम के लोगों को बेवकूफ बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एनआरसी और नागरिकता संशोधन विधेयक के दो लॉलीपॉप दिए हैं। तृणमूल कांग्रेस उन सभी 40 लाख लोगों…. हिंदू-मुसलमान… के साथ है जिनके नाम एनआरसी में नहीं हैं।’

ममता ने कहा कि किसी भी अन्यह दल ने ऐसे लोगों का समर्थन नहीं किया जिनके नाम एनआरसी में नहीं है। उन्होंयने कहा, ‘हम ऐसे लोगों के साथ हमेशा से रहे हैं।’ ममता ने दावा किया कि न केवल मुस्लिम बल्कि 22 लाख हिंदुओं के नाम भी एनआरसी में शामिल नहीं हैं। तृणमूल कांग्रेस अध्य्क्ष ने कहा कि बीजेपी नागरिकता बिल लोगों को विदेशी बनाने के लिए ला रही है।

ममता ने पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि मोदी झूठे हैं और हमेशा से ही लोगों को मूर्ख बनाते आए हैं। पांच साल पहले मोदी कहते थे कि वह चायवाला हैं और अब वह यह भूल गए हैं कि चाय कैसे बनाई जाती है। आपको बता दें कि नॉर्थ ईस्ट का प्रवेश द्वारा कहा जाने वाले असम में असमिया अस्मिता का मुद्दा अहम दिख रहा है। ब्रह्मपुत्र नदी और चाय के बागानों वाले असम में एनआरसी और नागरिकता संशोधन बिल अभी भी अंडरकरंट के तौर पर मौजूद है। इसी को देखते हुए ममता ने पीएम पर हमला बोला है।