बेंगलुरू में सूर्या की रैली में खुद अमित शाह ने किया प्रचार

बेंगलुरु
कर्नाटक की बेंगलुरू साउथ सीट से बीजेपी उम्मीदवार तेजस्वी सूर्या के रोड शो में पार्टी अध्यक्ष अमित शाह भी शामिल हुए। सूर्या को उम्मीदवार बनाए के बाद कर्नाटक बीजेपी के कई नेता उनका विरोध कर रहे हैं लेकिन अमित शाह ने खुद रोड शो करके प्रदेश बीजेपी को स्पष्ट संदेश दे दिया है कि सूर्या को केंद्रीय नेतृत्व से समर्थन मिला है।

दरअसल बीजेपी के हाईकमान ने ही सूर्या के नाम पर मुहर लगाई थी तो यह प्रदेश अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा और पूर्व डेप्युटी सीएम आर. अशोक समेत कई स्थानीय नेताओं को रास नहीं आया। कर्नाटक के एक पूर्व मंत्री वी. सोमन्ना ने तेजस्वी सूर्या का खुलकर विरोध किया। यह सीट दिवगंत नेता अनंत कुमार का गढ़ मानी जाती है। वह इस सीट से लगातार 6 बार सांसद रह चुके थे। पिछले साल उनके निधन के बाद से यह सीट खाली थी।

इस सीट से पहले उनकी पत्नी तेजस्विनी को टिकट दिया जाना था। सबकुछ लगभग तय हो चुका था और कर्नाटक बीजेपी की ओर से उनका नाम दिल्ली भेज दिया गया था लेकिन हाईकमान ने 28 साल के ऐडवोकेट और प्रदेश यूथ बीजेपी के महासचिव तेजस्वी सूर्या को अनंत कुमार का उत्तराधिकारी बनने के लिए चुना।

बताया जा रहा है कि बीजेपी के नैशनल ऑर्गनाइजिंग सेक्रेटरी बीएल संतोष और अमित शाह ने प्रदेश यूनिट की सिफारिश को नकारते हुए सूर्या का समर्थन किया था। इसके बाद स्थानीय नेताओं से समर्थन न मिलने की वजह से सूर्या अकेले पड़ गए थे, जिससे उनका चुनाव प्रचार भी शुरू नहीं हो पा रहा था।

अमित शाह की जानकारी में इसे लाने के बाद उन्होंने तय किया कि वह खुद रोड शो के जरिए सूर्या का प्रचार करेंगे और पार्टी नेताओं को सिग्नल देंगे कि सूर्या को पार्टी नेतृत्व से समर्थन मिला हुआ है। उन्होंने मंगलवार को बाणशंकरी मंदिर से रोड शो की शुरुआत की और इसके बाद जेपी नगर गए। इस दौरान उनके साथ तेजस्वी के अलावा येदियुरप्पा और तेजस्विनी अनंत कुमार भी मौजूद थी।

उधर बीजेपी ने डैमेज कंट्रोल करते हुए तेजस्विनी को कर्नाटक बीजेपी का उपाध्यक्ष नियुक्त कर दिया है। टिकट कटने से नाराज तेजस्विनी के बीते दिनों बीजेपी छोड़ने की चर्चा थी।