LOC पर भारतीय सेना की कार्रवाई में मारे गए पाकिस्तान के 3 जवान

श्रीनगर

भारतीय सैन्य बलों ने सरहद पर पाकिस्तान को करारा जवाब देते हुए उसके 3 जवानों को मार गिराया है। पाकिस्तान की ओर किए गए सीजफायर उल्लंघन के बाद जवाबी फायरिंग में पाकिस्तानी सेना के 3 जवान मारे गए। इसकी पुष्टि पाकिस्तान सैन्य बलों के मीडिया विंग आईएसपीआर ने प्रेस रिलीज जारी करके की है।

इसमें बताया गया है कि रावलकोट सेक्टर से सटी हुई एलओसी पर उनकी टुकड़ी के 3 जवान भारतीय सेना की फायरिंग में मारे गए। हालांकि, भारतीय सेना का दावा है कि एलओसी पर सीजफायर उल्लंघन के बाद भारत की ओर से कड़ी कार्रवाई में हुए भारी नुकसान को पाकिस्तान कम करके बता रहा है।

भारतीय सैन्य बलों के सूत्रों के अनुसार, पाकिस्तान भले ही 3 जवानों की मौत की बात कह रहा हो लेकिन वहां नुकसान इससे ज्यादा हुआ है। बता दें जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर पाकिस्तानी सेना की ओर से सोमवार को की गई भारी गोलाबारी में बीएसएफ के एक इंस्पेक्टर शहीद हो गए। वहीं पांच साल की बच्ची समेत दो व्यक्तियों की मौत हो गई। इसमें अन्य 24 लोग घायल हो गए।

अधिकारियों ने बताया कि इसके बाद भारतीय सेना ने भी अपनी तरफ से मुंहतोड़ जवाब दिया। उन्होंने बताया कि छह घर भी गोलाबारी की चपेट में आ गए और कई क्षतिग्रस्त हो गए। इसके अलावा कुछ मवेशी भी जख्मी हुए हैं। सेना के एक प्रवक्ता ने बताया था पाकिस्तान ने पुंछ की बलोनी पट्टी के असैन्य इलाकों में सोमवार रात मोर्टार से भारी गोलाबारी की जिसमें साजिदा बी नाम की महिला की मौत हो गई और 5 अन्य जख्मी हो गए।

पाकिस्तान ने पुंछ और राजौरी जिलों में लगातार चौथे दिन संघर्षविराम का उल्लंघन जारी रखते हुए सोमवार को पुंछ सेक्टर की अग्रिम चौकी पर गोले दागे थे, जिससे बीएसएफ की 168 बटालियन के इंस्पेक्टर टी एलेक्स लालमिनलुम समेत पांच कर्मी घायल हो गए थे। अधिकारियों ने बताया कि बीएसएफ इंस्पेक्टर ने बाद में दम तोड़ दिया था। उनके अनुसार सोमवार दोपहर में शाहपुर उप-सेक्टर के एक गांव में एक घर के नजदीक एक गोला गिरने से 5 साल की सोबिया की मौत हो गई और दो अन्य घायल हो गए।