बॉर्डर तक पहुंचे पाकिस्तान के F-16, खदेड़े गए।

अमृतसर

बालाकोट स्ट्राइक से बौखलाया पाकिस्तान अब भी अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। नियंत्रण रेखा पर बीते चार दिनों से तनावपूर्ण हालात पैदा करने की कोशिश कर रहे पड़ोसी मुल्क ने एक बार फिर पंजाब की अंतरराष्ट्रीय सीमा पर घुसपैठ की नापाक साजिश रची। सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तान ने पंजाब से सटे खेमकरण सेक्टर में एफ-16 विमानों के एक बेड़े के साथ घुसपैठ का प्रयास किया। हालांकि पहले से अलर्ट भारतीय वायुसेना ने घुसपैठिए विमानों को वापस खदेड़ दिया।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, पाकिस्तानी वायुसेना के 4 एफ-16 विमानों और एक यूएवी ड्रोन को सोमवार सुबह करीब 3 बजे खेमकरण सेक्टर से लगी अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास ट्रेस किया गया। रेडार पर पाकिस्तानी विमानों की एयर ऐक्टिविटी का पता चलने के फौरन बाद सुरक्षा अधिकारियों ने एयरफोर्स को अलर्ट कर दिया। वायुसेना ने पाकिस्तानी विमानों से खतरे को भांपते हुए तत्काल अपने सुखोई और मिराज विमानों को जवाबी ऐक्शन के लगा दिया।

भारतीय वायुसेना की इस सख्त घेराबंदी के कारण पाकिस्तानी जेट्स को भागने पर मजबूर होना पड़ा। इसके बाद सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारियों ने तत्काल शीर्ष स्तर पर मामले की जानकारी दी। आपको बता दें कि 26 फरवरी को भारतीय वायुसेना की एयर स्ट्राइक के बाद से ही पाक एयरफोर्स के कई विमान भारतीय इलाकों में दाखिल होने की कोशिश कर चुके हैं।

पाकिस्तान के एक एफ-16 विमान ने जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा के पास भारतीय वायुसीमा का उल्लंघन करते हुए घुसपैठ की कोशिश की थी, जिसे एयरफोर्स के विंग कमांडर अभिनंदन ने अपने मिग-21 फाइटर जेट से मार गिराया था। इसके अलावा पाकिस्तान ने राजस्थान और पंजाब में अपने कई ड्रोनों को भी सीमा से सटे इलाकों में भेजने का प्रयास किया, जिसे घुसपैठ के तुरंत बाद बीएसएफ जवानों ने मार गिराया।